प्लिंथ बीम कैसे डालते है? | How to Cast Plinth Beam

जब घर की नीव डाल दी जाती है, उसके बाद प्लिंथ बीम (Plinth Beam) डाली जाती है, प्लिंथ बीम का काम पुरे घर के वजन को किसी एक कॉलम(Column) पे न पड़ कर सभी कॉलम पे एक बराबर पड़ता है और कॉलम(Column) सारे भार को सामान तरीके से जमीन पे फैला देते है। जिससे की नीव कमजोर नहीं पड़ती है और पूरी बिल्डिंग सुरक्षित(Safe) हो जाती है।

इतने जरुरी काम के अलावा भी और भी छोटे छोटे कामो के लिए प्लिंथ बीम का इस्तेमाल किया जाता है, जैसे पानी से भी दीवारों की सुरक्षा करते है, और घर को जमीन से ऊपर उठाने में भी मदद करता है। क्योकि ये नीव और दीवार के बीच में होती है।


प्लिंथ बीम कहा डाली जाती है ?

प्लिंथ बीम को नीव और दीवारों के बीच में बनाया जाता है, और इसके बहुत सारे फायदे है जिसकी वजह से इसको बनाया जाता है, आपके घर बनाने का तरीका चाहे जो मर्जी हो आप प्लिंथ बीम का इस्तेमाल हर तरीके में कर सकते है।

चाहे वो लोड बेरिंग स्ट्रक्चर हो या फ्रेम बेरिंग स्ट्रक्चर में

प्लिंथ बीम एक बहुत ही मजबूत कंक्रीट के बीम होते हैं, इस प्लिंथ बीम बनाया इसलिए जाता है ताकि,

  • जमीन में होने वाली सेटेलमेंट(Soil Settelment) होने पर भी घर को नुकशान पहुंचने से रोका जाए।
  • अगर नींव में दरार आ भी जाए तो उसे दरार को घर की दीवारों तक पहुंचने से रोकता है।
  • बीम और कॉलम पे पड़ने वाले भार को बराबर तरीके से फैलता है।

प्लिंथ बीम की मोटाई ?

इसकी मोटाई कुछ बातो पे निर्भर करती है जैसे, कितनी मंजिल का आप घर बना रहे है, और दूसरी बात की दो पिलर में दुरी कितनी है।

Plinth Beam Failure
Plinth Beam Failure

ऊपर दिए हुए फोटो को देख कर आपको समझ आ रहा होगा ये देखना कितना जरुरी है की कितनी मंजिल का घर बन रहा है, और दूसरी बात की दो पिलर में दुरी कितनी है।

ज्यादातर इसको 3 आकर(Size) में बनाया जाता है।

9″x9″ – एक मंजिल के घर लिए
9″x12″ – 2 से 3 मंजिल के घर के लिए
9″x18″ – 4 से 6 मंजिल के घर के लिए


प्लिंथ बीम जमीन से कितनी ऊँची रखनी चाहिए ?

वैसे तो प्लिंथ बीम(Plinth Beam) को रोड से ढाई फ़ीट(2’6″) से 3 फ़ीट ऊपर ही डालना चाहिए, क्योकि ज्यादातर जगह पे देखा गया है की, रोड बनते समय सरकारी कर्मचारियों द्वारा रोड को ऊपर कर दिया जाता है, और धीरे धीरे आपका मकान रोड बराबर आ जाता है।

जिससे बरसात के दिनों में घर में पानी घुसने की समस्या हो जाती है।

सरकारी कर्मचारियों को समझाना और सुधारना न मुमकिन है, आपने सुना ही होगा इलाज से बेहतर परहेज है।

हाँ एक बात ध्यान रखने की है, अगर आप प्लिंथ बीम(Plinth Beam) जमीन से ऊपर बनवा रहे है तो, जितनी ऊपर बनवा रहे है। उस ऊंचाई में से प्लिंथ बीम(Plinth Beam) की मोटाई को घटा कर जितनी जगह बचे उसमे ईंट की दीवाल बनवा ले, उसके बाद ही प्लिंथ बीम(Plinth Beam) डाले।

**मान लीजिये अगर आप 9″x12″ मोटी प्लिंथ बीम(Plinth Beam) डालना चाहते है और रोड से 3 फ़ीट ऊपर बनाना चाहते है तो 2 फ़ीट तक ईंट की दीवाल बनवा ले और उसके ऊपर प्लिंथ बीम(Plinth Beam) डाले इससे आपको पूरी 3 फ़ीट की ऊंचाई मिलेगी नहीं तो 3 फ़ीट की जगह घर की ऊंचाई 4 फ़ीट हो जाएगी।

हमारा मानना ये है की प्लिंथ बीम(Plinth Beam) की ऊंचाई को जमीन से नहीं रोड(Road) से देखना चाहिए, और रोड (Road) से ये कम से कम 1 फ़ीट ऊँचा तो रखना ही चाहिए। तभी आप इसके होने वाले फायदे को उठा पाएंगे।


प्लिंथ बीम के फायदे ?

  • पिलन्थ बीम (Plinth Beam) के डालने के बाद सीलन नहीं आती है ये सीलन रोकने का काम करता है।
  • ये दीवारो का वजन एक सामान फैला देता है, जिससे घर किसी एक दिशा में नहीं झुकता है।
  • ये आपकी फर्श के लिए एक अच्छा आधार(Foundation) बना देता है।
  • जमीन में होने वाली सेटेलमेंट(Soil Settlement) से भी बचता है।
  • ये बीम नमी को नींव से इमारत में प्रवेश करने से रोकते हैं।
  • ये कॉलम(Column) को बांधने का काम करती है।
  • प्लिंथ बीम नींव से, दीवार तक की दरारों को रोकता है।
  • यह भूकंप के दौरान इमारत को गिरने से रोकता है।

प्लिंथ बीम के लिए सावधानी ?

प्लिंथ बीम को लड़ना पड़ता है, पानी से, पेड़ की जड़ो से, और दीमको से,

पानी से लड़ने के लिए – PPC ग्रेड 53 का ही इस्तेमाल करे।
पेड़ की जड़ो से लड़ने के लिए – इसके आपको ध्यान रखना पड़ेगा की, घर की नीव के पास पेड़ या पेड़ की कोई जड़ न हो अगर वो है तो आप उसे निकलवा दे।
दीमको से लड़ने के लिए – आप हमारी पोस्ट को जरूर पढ़े दीमक कैसे हटाए | Anti Termite Treatment – 2022

जहा भी सीमेंट का काम होता है, वहाँ पे तराई का काम बहुत जरुरी है, तराई कैसे और कब तक करते है?


प्लिंथ बीम से जुड़े सवाल और उनके जवाब


  1. प्लिंथ बीम देना जरुरी है ?

    अगर आपके इलाके(Area) में भूकंप आता है, या जमीन सख्त(Tight) नहीं है तो, आपको प्लिंथ बीम देना जरुरी है क्योकि ये आपके घर को भूकंप से होने वाले नुकशान से भी बचता है और घर को नीचे धसने से भी बचता है।

  2. प्लिंथ बीम के लिए कैसा कंक्रीट बनाये ?

    प्लिंथ बीम के लिए कम से कम M25 कंक्रीट का इस्तेमाल करे, और अगर आप इसे मशीन से नहीं हाथ से बनवा रहे है, तो 10% ज्यादा सीमेंट डलवाये ताकि

  3. Soil Settlement क्या होता है ?

    Soil को हिंदी में मिट्टी कहते है ये तो समझना आसान था अब सेटलमेंट को समझते है।
    सेटलमेंट(Settlement) जब जमीन के अंदर उथल पुथल होती है, चाहे वो प्राकृतिक तरीके से हो या भूकंप के बाद हो, तब जमीन के अंदर की मिट्टी बैठ जाती है, इससे मिट्टी की सेटलमेंट कहते है।

  4. नीव के टूटने पर प्लिंथ बीम(Plinth Beam) का क्या होता है।

    नीव टूटना कोई आसान बात तो नहीं है मगर ऐसा नामुमकिन भी नहीं है। मगर अच्छी बात ये है कि, नीव के टूटने के बाद भी प्लिंथ बीम आपके घर को सँभालने की क्षमता रखती है।

  5. प्लिंथ बीम(Plinth Beam) में कवर ब्लॉक कितना देना चाहिए ?

    प्लिंथ बीम के लिए आपको कम से कम 25MM का कवर ब्लॉक देना चाहिए।

  6. प्लिंथ बीम के लिए कितने मोटे सरिये का इस्तेमाल करना चाहिए?

    प्लिंथ बीम के लिए सरिये का चुनाव करने से पहले ये जानना जरुरी है, की आप कितना बड़ा और कितने मंजिल का घर बनवा रहे है। अगर आपको हमारे मदद की जरुरत है तो आप हमें कमेंट कर सकते है।

  7. प्लिंथ बीम(Plinth Beam) के नीचे ईंट की दीवाल लगाने का क्या फायदा है?

    प्लिंथ बीम(Plinth Beam) को रोड से कम से कम 3 फ़ीट ऊँचा रखना चाहिए, और अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो, आने वाले समय में आपका घर रोड के बराबर आ जायेगा, और बरसात के दिनों में आपको परेशान होना पड़ेगा।
    उससे बचने के लिए आपको घर को ऊँचा बनाना पड़ेगा, और जब आप घर को ऊँचा बनाएंगे तो उसमे रेत, मिट्टी या मालवा भरवाना पड़ेगा और अगर आप ईंट की दीवाल नहीं बनवाएंगे तो वो निकल जायेगा और आपकी फर्श में दरार आने लगेगी।

Was this helpful?

33 / 1

पढ़ के कैसा लगा, कमेंट करे

0Shares
error: Content is protected !!